दस मुखी रुद्राक्ष के फायदे | 10 Mukhi Rudraksha Benefits in Hindi

10 Mukhi Rudraksha:१० मुखी रुद्राक्ष साक्षात् जनार्दन विष्णुस्वरूप माना गया है। इसे धारण करने पर सर्व ग्रहो की शक्ति प्रबल बनती है। इसे धारण करने वाले को नाग तथा सर्पो का भय नहीं होता। पिशाच तथा ब्रह्म राक्षस की बांधाये नहीं सताती। यह रुद्राक्ष अत्यंत शक्तिशाली माना गया है।यम स्वरुप दस मुखी रुद्राक्ष दुलर्भ है। तांत्रिक क्षेत्र में इसका अच्छा महत्व है। मरण – मोहन का इस पर प्रभाव नहीं होता है। अकाल मृत्यु से यह बचता है। इसे धारण करने से व्यक्ति विष्णु को प्रसन्न कर यश ,मान और लक्ष्मी को प्राप्त करता है।

अंक ज्योतिष के अनुसार इसे एक मुखी का कारक कहा जाता है।क्योंकि १ मूलांक और १० मूलांक(१+० =१) को १ ही माना जाता है। यह राजनीती और कला से जुड़े लोगो को यह फायदा देता है। इसे १० महाविद्या और विष्णु के १० अवतार से भी जोड़ा जाता है। इसके अलावा दस दिशाए और दस दिग्पाल की ऊर्जा भी इसमें समाहित होती है ऐसा कहा जाता है । यह नौ मुखी की तुलना में जल्दी मिल जाता है।

दस मुखी रुद्राक्ष कैसा होता है(how to identify 10 mukhi rudraksha)

दस मुखी रुद्राक्ष में १० धारियाँ बनी होती है।इन धारियों का आकार छोटा बड़ा हो सकता है। यह आकार में यह गोल होता है। नेपाल का १० मुखी रुद्राक्ष श्रेष्ठ होता है। जो सामान्य आकार से आंवले आकार को हो सकता है। इंडोनेशिया १० मुखी का आकार छोटा होता है जिसे माला में प्रयोग किया जाता है।

10 mukhi rudraksha benefits in hindi,दस मुखी रुद्राक्ष
नेपाल का १० मुखी रुद्राक्ष

दस मुखी रुद्राक्ष पहनने के फायदे(10 Mukhi Rudraksha Benefits)

१० मुखी रुद्राक्ष के कुछ फायदे जो लोगो को उनके अनुभव के आधार पर प्राप्त हुए है –

  • यह सभी ग्रहों और समस्याओं के लिए एक ही उपाय है।
  • यह आपके पूरे परिवार और आने वाली पीढ़ी को पवित्र करता है।
  • यह उस तरह का जीवन देता है जैसा आप चाहते हैं या सपना देखते हैं।
  • यह आपकी इच्छाओं और सपनों को प्रकट करता है।
  • यह आपको आत्मविश्वासी, साहसी और भाववाहक बनाता है।
  • यह वाक्पटुता, रचनात्मकता, कम्युनिकेशन स्किल , परिपक़्वता और समझदारी का आशीर्वाद देता है।
  • यह गरीबी को दूर करता है और धन, विलासिता, आराम और प्रचुरता लाता है।
  • यह आपको समाज में अपार सम्मान और पहचान भी देता है; यह आपको उच्च पद प्राप्त करने में भी मदद करता है।
  • यह आपको उच्च लक्ष्य निर्धारित करने और उन्हें प्राप्त करने के उपयुक्त तरीके खोजने में मदद करता है।
  • यह आंतरिक आनंद और मन की शांति को प्रज्वलित करता है।
  • यह चिंता और अनावश्यक भटकन को समाप्त करता है और जीवन में होने वाली चीजों के लिए धैर्य और स्वीकृति विकसित करता है।
  • यह एक रक्षक है जो तांत्रिक हमलों, आत्माओं, हथियारों, बुरी नज़र, दुर्घटना और दुर्घटनाओं से बचाता है।
  • यह एक शक्तिशाली रुद्राक्ष है जो आपके द्वारा किए गए किसी भी प्रयास में सफलता सुनिश्चित करता है।
  • यह आपको दुश्मनों पर भारी बनाता है, इस प्रकार, आप संघर्ष, झगड़े, अदालती मामलों और प्रतियोगिता में विजयी होते हैं।
  • यह आप को सांसारिक – भौतिक चीजों से जोड़ता है।

दस मुखी रुद्राक्ष किस लग्न के लोग पहन सकते है

१० मुखी रुद्राक्ष को हर लग्न और राशि का व्यक्ति धारण कर सकता है। जिन व्यक्तियों की कुंडली में अधिकतम ग्रहों का दोष हो या सभी ग्रहों को संतुलित करना हो तो १० मुखी रुद्राक्ष को अभिमंत्रित करके धारण किया जाना चाहिए।

दस मुखी रुद्राक्ष धारण करने का मंत्र(10 Mukhi Rudraksha Mantra)

दस मुखी रुद्राक्ष को धारण करने का मंत्र “ॐ ह्रीं नमः” है ।” ॐ क्लीं कृष्णायें नमः” को भी १० मुखी रुद्राक्ष मंत्र के रूप में जाना जाता है। इसे धारण करने के लिए रुद्राक्ष की माला से १०८ बार जप करना होता है।

ॐ ह्रीं क्लीं व्रीम ॐ। इति मंत्रः।

दस मुखी रुद्राक्ष विनियोग मंत्र(10 Mukhi Rudraksha Viniyoga Mantra)

अस्य श्रीजनार्दनमंत्रस्य नारदऋषिः अनुष्टुप्छन्दः जनार्दनो देवता श्रीं बीजं ह्रीं शक्तिः अभीष्टसिद्धयर्थे रुद्राक्षधारणार्थे जपे विनियोगः।
नारदऋषये नमः शिरसि।
अनुष्टुप्छन्दसे नमो मुखे।
जनार्दन देवतायै नमो हृदि।
श्रीं बीजाय नमो गुहों।
ह्रीं शक्तये नमः पादयोः।

अथ करन्यासः(10 Mukhi Rudraksha Karnyas Mantra)

ॐ ॐ अंगुष्ठाभ्यां नमः।
ॐ श्रीं तर्जनीभ्यां स्वाहा।
ॐ ह्रीं मध्यमाभ्यां वषट।
ॐ क्लीं अनामिकाभ्यां हुं।
ॐ व्रीम कनिष्ठिकाभ्यां वौषट।
ॐ ॐ करतलकरपृष्ठाभ्यां फट ।।

अथाङ्ग न्यासः ( 10 Mukhi Rudraksha Nyas Mantra)

ॐ ॐ हृदयाय नमः।
ॐ श्रीं शिरसे स्वाहा।
ॐ ह्रीं शिखाए वषट।
ॐ क्लीं कवचाय हुं।
ॐ व्रीम नेत्रत्रयाय वौषट।
ॐ ॐ अस्त्राये फट।।

अथ ध्यानम (10 Mukhi Rudraksha Dhyanam)

विष्णु शारद चंद्र कोटि सदृशं शंखं रंथागं गदम।
अम्भोजं दधतं सिताब्जनिलयं कान्तयां जगन्मोहनम।।
आबद्वान्गदहार कुण्ड महामौलिस्फुरत्कंकर्ण ।
श्रीवत्सांकमुदारकौस्तुभ धरम वन्दे मुनीन्दे स्तुतम्‌॥

दस मुखी रुद्राक्ष किस ग्रह के लिए है(10 Mukhi Rudraksha Planet)

दस मुखी रुद्राक्ष सभी ग्रहों को संतुलित करता है। इस लिए सभी ग्रहों या किसी भी ग्रह के लिए धारण किया जा सकता है।

दस मुखी रुद्राक्ष प्रदीप मिश्रा जी(10 Mukhi rudraksha By Pradeep Mishra)

शिवपुराण कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा जी (सीहोर वाले ) ने अपनी कथा में दस मुखी रुद्राक्ष के बारे में बताया है की –

“दस मुखी रुद्राक्ष घुटने और कमर दर्द के लिए होता है। दस मुखी रुद्राक्ष घुटने का दर्द हो ,कमर का दर्द हो डॉक्टर बोल रहे हो की घुटना बदलना होगा तो १० मुखी रुद्राक्ष को कुछ समय पहन कर देखिये। महाराज इसका मंत्र है ” ॐ हीं नमः”।”

दस मुखी रुद्राक्ष की कीमत(10 Mukhi Rudraksha Price)

10 मुखी नेपाली रुद्राक्ष सामान्य आकर का आपको 5000 रुपये के आस पास मिल जायेगा। कुछ बेहतर गुणवत्ता का 10 मुखी रुद्राक्ष (collector beads) जो नेपाली बड़े आकार आंवला आकार का होता है उनकी कीमत 8000 रुपये के आस पास होती है ।

आवश्यक जानकारी :10 मुखी रुद्राक्ष के बारे में जानकारी विभिन्न पुस्तकों और अनुभव के आधार पर प्रदान की गयी है। हम पाठको से अनुरोध करते है की रुद्राक्ष के तथ्यों पर अपना विवेक का प्रयोग अवश्य करे।

यह भी देंखे:मिथुन राशि के जातक का स्वाभाव

2 टिप्पणी

टिप्पणियाँ बंद हैं।